What's New :           ☘ फॉर्म/प्रपत्र ⇝आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को प्रमाण पत्र के लिए आवेदन पत्र ⇝ Application form for EWS certificate (आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों को प्रमाण पत्र के लिए आवेदन पत्र)          ☘ फॉर्म/प्रपत्र ⇝अल्पसंख्यक जाति प्रमाण पत्र के लिए आवेदन पत्र ⇝ Application form for Caste Certificate Minority (अल्पसंख्यक जाति प्रमाण पत्र के लिए आवेदन पत्र)          ☘ फॉर्म/प्रपत्र ⇝शहरी क्षेत्रवासियों के लिए राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम में नाम जुडवाने के लिए आवेदन पत्र ⇝ शहरी क्षेत्रवासियों के लिए राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम में नाम जुडवाने के लिए आवेदन पत्र          ☘ फॉर्म/प्रपत्र ⇝ग्रामीण क्षेत्रवासियों के लिए राष्ट्रिय खाद्य सुरक्षा अधिनियम में नाम जुडवाने के लिए आवेदन पत्र ⇝ ग्रामीण क्षेत्रवासियों के लिए राष्ट्रिय खाद्य सुरक्षा अधिनियम में नाम जुडवाने के लिए आवेदन पत्र          ☘ फॉर्म/प्रपत्र ⇝राजस्थान राज्य हेतु अनुसूचित जाती व अनुसूचित जनजाती प्रमाण पत्र ⇝ राजस्थान राज्य हेतु अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति प्रमाण पत्र
State Insurance > Introduction

Site Visitors : 000000

Page Visitors : 000000
SI Introduction


राजस्थान राज्य के निर्माण के बाद, कर्मचारी बीमा नियम 1953 के तहत, 1-1-1954 से सामाजिक और आर्थिक सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से राज्य के सभी सरकारी कर्मचारियों पर अनिवार्य राज्य बीमा योजना लागू की गई थी। इसे आगे बढ़ाया गया, और 1-4-1995 से जिला परिषद और पंचायत समितियों के कर्मचारियों पर लागू किया गया था I यह योजना राज्य सरकार के तहत विभिन्न विभागों के सभी कार्य प्रभार कर्मचारियों पर लागू की गई थी। 

पुराने नियम फिर से लिखे गए और नए बीमा नियम 01-04-1998 से लागू हुए।

After the formulation of the state of Rajasthan ,under the employees insurance rules 1953 ,compulsory State insurance scheme was made applicable on all the government employees of the state with an aim of providing social and economic security ,from 1-1-1954 .The scheme was further extended ,and was made applicable on employees of zila parishads and panchayat samities from 1-4-1989.later from 1-4-1995 the scheme was made applicable on all the work charge employees of different Departments under the State Government.

The old rules were re-written and new insurance rules came into force from 01-04-1998.

Write Your Comment :



*If you want receive email when anyone comment regarding this topic. Please provede email.
**your mobile no. and email will be confidential and we'll never share with others.